अलवर में मूक बधिर लड़की से हैवानियत, रेप के बाद प्राइवेट पार्ट पर हमला

राज्य समाचार

राजस्थान में इन दिनों रेप की घटनाओं ने प्रशासन और सरकार के सुरक्षा के दावों की पोल खोल कर रख दी है। देश की राजधनी से लगे एनसीआर वाला जीला अलवर एक बार फिर चर्चा का विषय बन गया है। अलवर में रेप की घटनाएं इस तरह से बढ़ रही है लेकि अपराधी दिन दहाड़े किसी का अपरहरण करके उसका रेप करने के बाद उसे रोड़ पर फेक देते है।

बेरोजगारी के मुद्दे पर Upen Yadav करेंगे विधान सभा का घेराव!, देखें Video

अलवर को अगर रेप का गढ़ कहे तो कोई बड़ी बात नहीं होगी क्योंकि यहां आए दिन रेप की घटनाओं ने पूरे प्रदेश को शर्मसार कर ​दिया है। हाल ही में मूकबधिर नाबालिग बालिका से रेप की गंभीर वारदात ने सभी को हैरान कर दिया है। इस घटना के बाद आरोपियों ने पीड़िता को बेहोशी की हालत में पटककर फरार हो गये। पीड़िता को गंभीर हालत में जयपुर रेफर किया है जो अभी जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रही है।

यह घटना अलवर के मालाखेड़ा थाना इलाके से जुडी है जहां मालाखेड़ा थाना इलाके के एक गांव  15 वर्षीय मूकबघिर बालिका मंगलवार शाम को लापता हुई और इसके बाद बालिका रात को तिजारा फाटक पुलिया के पास बेहोशी की हालत में पड़ी मिली। इसके बाद पुलिस ने पीड़िता को अस्पताल में भर्ती करवाया।

भगवद्गीता हाथ में लेकर क्या बदल गई Urfi Javed की सोच, अब क्या करेंगे जिहादी!,देखें Video

इस दौरान पता चला कि पीड़िता के प्राइवेट पार्ट से खून बह रहा था। इसके बाद डॉक्टरों ने कहा कि सर्जरी की जरूरत है और जयपुर के एसएमएस अस्पताल में रेफर किया गया। आरोपियों ने बच्ची के प्राइवेट पार्ट में नुकीली चीज से हमला किया जिसके कारण घाव हो गया और खूब खून बहना शुरू हो गया। इस घटना के बाद दिल्ली के निर्भया कांड की याद ताजा कर दी है जिसमें भी इस तहर की दरिंदगी की गयी थी।


पुलिस ने घटना के बाद आरोपियों को तलाशने में जुटी है। प्रदेश में अलवर जिला महिला संबंधी और अन्य अपराधों के लिये बुरी तरह शर्मसार कर रहा है। इस घटना से पहले भी रेप की कई बड़ी घटनाएं हो चुकी है लेकिन इसके बाद भी पुलिस प्रशासन किसी प्रकार की रोक लगाने में नाकाम साबित हो रही है।

कमेंट करें