महिला नेता ने चलाई गोली और मोदी-योगी को दी गाली, फिर हुआ बड़ा खुलासा

राज्य समाचार

राजनीति में बने रहने के ​लिए नेता कुछ भी करने के लिए तैयार रहते है और इसी वजह से नेताओं पर लोगों का ज्यादा भरोसा नहीं होता है। हाल ही में उत्तर प्रदेश के राजनीतिक गलियारों से ऐसी खबर आयी है जहां टिकट की लालच में लोगों को झुठी कहानी बताकर वाहवाही लूटने का काम किया। 

पिछले दिनों सुल्तानपुर में 16 दिसंबर को पीएम मोदी पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का लोकार्पण के समय जनसभा में कांग्रेस नेता रीता यादव ने काला झंडा दिखाकर और योगी-मोदी मुर्दाबाद के नारे लगाकर पूरे देश में चर्चा का विषय बन गयी थी। इसके महिला नेता ने 3 जनवरी को पुलिस में शिकायत की थी कि उन पर किसी ने जानलेवा हमला किया है तो यह मामला और ज्यादा चर्चा का विषय बन गया।
बेरोजगारी के मुद्दे पर Upen Yadav करेंगे विधान सभा का घेराव!,देखें Video

मामला बढ़ता देख पुलिस ने जांच की तो हैरान करने वाला खुलासा हुआ। महिला नेता ने बताया था कि लखनऊ वाराणसी बाईपास ओवर ब्रिज पर अज्ञात बदमाशों ने जानलेवा हमला किया और इसमें उनके पैर में गोली भी लगी थी। इसके बाद उन्हें घायलावस्था में अस्पताल में भर्ती कराया औरकांग्रेस ने इस मुद्दे पर योगी सरकार पर भी जमकर निशाना साधा।

​​​​​​​

जांच में पुलिस ने दूध का दूध और पानी का पानी करते हुए हैरान करने वाला खुलासा किया तो कांग्रेस के नेताओं को बड़ा झटका लगा।
पुलिस ने बताया कि इस घटना को अंजाम देने के लिए महिला नेता ने अपने जानकर पूर्व प्रधान माधव यादव का सहारा लिया। इस घटना को करने का कारण आगामी विधानसभा चुनाव कांग्रेस से टिकट लेना बताया है।

Swami Prasad Maurya की SP में एंट्री के बाद Mulayam के समधी BJP में शामिल! ,देखें Video

पुलिस ने मामले को गंभीर मानते हुए साजिश रचने के मामले में रीता यादव समेत तीन लोगो को गिरफ्तार करने के साथ हथियार भी बरामद कर लिया है। इस घटना के कांग्रेस के नेताओं से जवाब बनता नहीं आ रहा है और एक फिर जनता को झूठी कहानी बनाकर हमदर्दी लेने वाले नेताओं का खुलासा सभी पार्टीयों के सबक है।

कमेंट करें