त्रिपुरा के नए सीएम होंगे माणिक साहा, बिप्लब देब करेंगे संगठन मजबूत करनें का काम

देश विदेश

त्रिपुरा सीएम विप्लव देव ने अचानक से इस्तीफा दे दिया और इस बात को लेकर विपक्ष ने बीजेपी के बड़े नेताओं पर हमला बोल दिया है। इस्तीफे का कारण अभी स्पष्ट नहीं है लेकिन इंडिजिनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा सरकार का चार साल से चल रही थी। विप्लव देव ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा देने के बाद कहा पीएम मोदी से उनकी बात हो गई है और चुनावों में संगठन को मजबूत करने की बात कही है। बीजेपी ने त्रिपुरा के नए सीएम के लिए माणिक साहा के नाम की घोषणा कर दी है।

मंदिर या मकबरा ताज के 22 कमरों के पीछे क्या? नहीं जानेंगी अब दुनिया?

राज्य में आठ महीने बाद विधानसभा चुनाव होंगे और इससे पहले पीएम का बदलना कई सवाल खड़े कर रहा है। सीएम देव ने कल ही केंद्रीय मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी और आज का उनका इस्तीफा होना सभी को हैरान कर रहा है। इस्तीफा का प्रमुख कारण बिप्लब देब से कई विधायकों की नाराजगी है और इस बात को लेकर वह दिल्ली भी आ चुके हैं।

2018 के चुनावों में माणिक सरकार की कम्युनिस्ट सरकार को हटाकर भाजपा ने सरकार बनाई थी। 60 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 36 विधायक हैं और इंडिजिनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा के 8 विधायक हैं। आज शाम नए सीएम का ऐलान होगा और इसके ​लिए केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव अगरतला पहुंच गए हैं। आज शाम 5 बजे विधायक दल बैठक में नए सीएम का नाम घोषित किया जाएगा।

कमेंट करें