अब जयपुर में होगी कांग्रेस की महंगाई रोको रैली, बढ़ेगा कोरोना का खतरा

राज्य समाचार
राजस्थान में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका तो बहुत कम हो गयी है लेकिन कोरोना के नये वैरिएंट ओमिक्रांन ने चिंता बढ़ा दी है। कांग्रेस ने देश में बढ़ रही मंहगाई के खिलाफ जो रैली दिल्ली में होने वाली थी उसे अब जयपुर में शिफ्ट किया गया है। इस रैली में करीब 2 लाख लोगों की भीड़ जुटाने की बात कही जा रही है। इस रैली को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी को घेरने की तैयारी में लगी हुई लेकिन इस रैली के कारण कोरोना का खतरा बढ़ने की आंशका भी बढ़ सकती है।

दिल्ली में नहीं मिली अनुमति
12 दिसंबर को होने वाली रैली की तैयारियों को लेकर कांग्रेस महासचिव के.सी.वेणुगोपाल और राजस्थान के प्रभारी अजय माकन 3 दिसंबर को जयपुर आ रहे हैं। कांग्रेस ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि दिल्ली में होने वाली देशव्यापी रैली को भाजपा ने साजिश के तहत निरस्त करवाया है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि द्वारका में होने वाली रैली की अनुमति को खारिज कराने के लिए बीजेपी ने एक सुनियोजित षडयंत्र के तहत दिल्ली के उपराज्यपाल पर दबाव बनाया था।

जयपुर में होगी रैली
जयपुर में यह रैली विद्याधर नगर स्टेडियम में होगी और इसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत सभी बड़े नेता शामिल होंगे। वेणुगोपाल ने कहा कि पूरा देश इस समय महंगाई,बेरोजग़ारी, अर्थव्यवस्था, किसान-मज़दूरों व दलितों-आदिवासियों-पिछड़ों-अल्पसंख्यकों पर अत्याचार जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार को घेरेंगे। कांग्रेस 12 दिसंबर को दिल्ली में महंगाई हटाओ रैली करेगी।

रोजगार पर बीजेपी ने कांग्रेस को घेरा
कांग्रेस की इस रैली में रोजगार की मांग बीजेपी ने गहलोत सरकार को आड़े हाथ लिया और कहा कि राजस्थान का बेरोजगार अपनी मांगों के लिए एक महीन से आंदोलन कर रहा है और यूपी में प्रियंका गांधी से मिलने गुहार लगा रहा है। लेकिन गहलोत सरकार उनकी सुध नहीं ले रही है और रोजगार के नाम पर रैली कर रही है।

कोरोना का खतरा
राजस्थान में पिछले कुछ दिन से कोरोना मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ने लगा है और 12 दिसंबर को होने वाली रैली में लाखों लोगों की भीड़ से कोरोना का खतरा ज्यादा बढ़ सकता है। सरकार को इस बात का ध्यान रखना होगा कि अगर कोरोना से जंग जीत तो ली है लेकिन इस रैली के कारण फिर से कोरोना का विस्फोट होने का खतरा भी है।

कमेंट करें